Biography of ( रोमन रेंस ) WWE Star - Gyanhindime


रोमन रेंस का प्रारंभिक जीवन – Roman Reigns  Early Life Information 

roman reigns ki kahani
Roman Reigns ki kahani


रोमन रेंस जन्म 25 मई 1985 को फ्लोरिडा के पेंसकोला नाम के शहर में हुआ था। वे अनोआ'ई परिवार के सदस्य हैं। जिस परिवार में बहुत सारे रेसलरओ ने जन्म लिया है। रोमन को शुरू से ही फुटबॉल का बहुत शौक था। और आगे चलकर उन्होंने अपने शौक को प्रोफेशनल करियर में बदल दिया। उन्होंने 3 साल पेंसकोला कैथोलिक हाई स्कूल और 1 साल इसकैंबिया हाई स्कूल से फुटबॉल खेला।

 बाद में उन्होंने जॉर्जिया इंस्टीट्यूट आफ टेक्नोलॉजी में एडमिशन लिया। और वहां पर उन्होंने जॉर्जिया टेक यलो जैकेट फुटबॉल टीम की तरफ से खेला। आगे चलकर 2008 में उन्हें कनाडा की एक प्रोफेशनल टीम में शामिल किया गया। जहां पर वह 99 नंबर की जर्सी पहनकर खेला करते थे।


2010 में रोमन ने अपना कदम रेसलिंग की तरफ रखा। और उन्होंने डब्ल्यूडब्ल्यूई के साथ कॉन्ट्रैक्ट साइन किया। जिसके बाद वह फ्लोरिडा रेसलिंग चैंपियनशिप से जुड़ गए। रोमन रेंस ने 9 सितंबर 2010 को पहली बार प्रोफेशनल रेसलिंग की शुरुआत की। लेकिन रोमन रेंस अपनी पहली फाइट हार गए। आगे चलकर उनका सामना आईडल स्टीवन और वेस बरिस्को से हुआ। लेकिन फिर से उन्हें हार का मुंह देखना पड़ा। 

आखिरकार 21 सितंबर 2010 को उनकी हार का सिलसिला टूटा। और उन्होंने फहद रखमन को परास्त किया। बच्चा हुआ साल उन्होंने टैग टीम मैच खेलकर बताएं। आगे चलकर उन्होंने 30 मैन ग्रैंड रॉयल में पार्टिसिपेट किया। लेकिन वहां भी वह बाहर हो गए। आगे चलकर उन्होंने डोनी मार्लो के साथ टैग टीम टीम बनाई। लेकिन इस जोड़ी को भी हार का सामना करना पड़ा। अब तक रोमन के साथ कुछ भी अच्छा नहीं हो रहा था। लेकिन इन कठिन परिस्थितियों में भी उन्होंने हार नहीं मानी।

लेकिन दोस्तों कहते हैं ना, कि हार मानो  नहीं तो कोशिश बेकार नहीं होती, कोशिश करने वालों की कभी हार नहीं होती। 2012 में उन्होंने लियो करगेर को हराकर फ्लोरिडा हैवीवेट चैंपियनशिप अपने नाम की, और बता दिया कि वह किसी को भी हराने में सक्षम है। उसी साल 5 फरवरी को उन्होंने डीन एंब्रोस और सेठ रोलिंस को भी मात दे डाली। आगे चलकर उन्होंने माइक डेल्टन के साथ मिलकर टैग टीम बनाई। और प्रोरेटर टैग टीम चैंपियनशिप अपने नाम की। 

और उसी साल जब डब्ल्यूडब्ल्यूई ने ऐपसीडब्ल्यू का नाम बदलकर एनएक्सटी कर दिया। तभी रोमन लियाकी ने अपना नाम बदलकर रोमन रेंस रख लिया। जिस नाम से उनके करोड़ों फैन उन्हें जानते हैं। और इसी नाम के साथ खेलते हुए उन्होंने सीजे पारकर को हराया। दिसंबर 2012 में रोमन रेंस ने डीन एंब्रोस और सेठ रॉलिंग्स के साथ मिलकर एक टीम बनाई जिसका नाम उन्होंने द शील्ड रखा। जिन्होंने बहुत सारे मैच जीते। और उनकी टीम दिसंबर 2012 से 2014 तक रही। यह टीम 2014 में टूटी और रोमन रेंस और सेठ के बीच विवाद हो गया।

 जिसकी वजह से 21 सितंबर को उन दोनों के बीच मैच हुआ, लेकिन सर्जरी की वजह से वह मैच रोमन रेंस नहीं खेल पाए। जिसकी वजह से सेठ को विजेता घोषित कर दिया गया। 8 सितंबर को सर्जरी से उभरने के बाद रोमन रेंस ने फिर से वापसी की। और तब उन्हें सुपरस्टार ऑफ द ईयर के पुरस्कार से नवाजा गया। और रोमन रेंस रुके नहीं और उनकी जीत का सिलसिला चलता रहा। और आगे चलकर एक बड़े मैच में ट्रिपल एच को हराकर तीसरी बार वर्ल्ड हैवीवेट चैंपियनशिप अपने नाम की। इसके अलावा उन्होंने आगे चलकर यूनाइटेड स्टेट चैंपियनशिप भी जीती। उन्होंने आगे चल कर गैलिना बेकर से शादी की। जिनसे उन्हें एक बेटी है। जिसका नाम जोएले है।




« और यह भी पढ़ें »

Mike Tyson Ki Kahani 

Arnold जाने बॉडीबिल्डर से एक्टर बनने तक की कहानी 

जॉन सीना WWE रेसलेर की  कहानी

भारतीय WWE सुपरस्टार द ग्रेट खली की जीवनी 






 Note:

आपके पास About roman reigns ki kahani मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे. अगर आपको हमारी Blog Post roman reigns ki kahani Hindi Language में अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और WhatsApp Status पर Share कीजिये.


E-MAIL Subscription करे और पायें Easy Biography For Readers roman reigns ki kahani आपके ईमेल पर.






hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments