जॉनी लीवर की जीवनी - GyanHindiMe


 Johny Lever ki jivani hindi me
कॉमेडी की अलग पहचान बनाने वाले शख्स जॉन प्रकाश राव जिन्हें हम जॉनी लीवर के नाम से जानते हैं उनका जन्म 14 अगस्त 1956 को आंध्र प्रदेश के प्रकाशन जिले में एक बहुत ही गरीब परिवार में हुआ था। लेकिन वे मुंबई के किंग सर्कल धारावी मे पले बढ़े। जहां उनके पिता हिंदुस्तान लीवर फैक्ट्री में मजदूर के तौर पर काम करते थे।


johny lever ki jivani hindi me
 Johny Lever 


 अगर पढ़ाई की बात करें तो उन्होंने आंध्र सच्चा सोसायटी से 7वीं तक की पढ़ाई की। और घर की हालत इतनी खराब थी, कि उन्हें पढ़ाई बीच में ही छोड़नी पड़ी। और अपना पेट पालने के लिए मुंबई की सड़कों पर पेन बेचना शुरु कर दिया। इसके अलावा उन्होंने अपने पिता के साथ मिलकर हिंदुस्तान लीवर फैक्ट्री में भी मजदूरी की। और यहीं पर उनका नाम जॉन प्रकाश राव से जॉनी लीवर हो गया।

 दोस्तों हुआ यह कि जब जॉनी लीवर फैक्ट्री में काम किया करते थे। तब वह वहां के सीनियर लोगों की मिमिक्री किया करते थे। और इसीलिए वहां के लोग उन्हें जॉन प्रकाश राव से जॉनी लीवर फुल आने लगे। जॉनी लीवर की एक्टिंग से वहां के मजदूरों के साथ-साथ अधिकारी भी काफी प्रभावित थे। और जब कभी भी कंपनी में कोई प्रोग्राम होता था, तो जॉनी लीवर को स्टेज पर परफॉर्मेंस करने के लिए जरूर बुलाया जाता था।

 जॉनी लीवर भी अब अपने टैलेंट को पहचानने लगे थे। और उन्होंने कंपनी में काम करने के साथ ही साथ छोटे-छोटे आर्केटा शो में में भी काम करना शुरू कर दिया। आगे चलकर जब शो के जरिए अच्छी कमाई आने लगी। तब उन्होंने 1981 में जाकर कंपनी छोड़ दी। और अपना पूरा समय अपने टैलेंट को और भी ज्यादा बेहतर बनाने में लगा दिया। और फिर आगे चलकर अपनी मेहनत और लगन के जरिए वह स्टेज शो पर बेहतरीन कलाकार बन गए।

 और फिर 1982 में उन्होंने अपना पहला बड़ा स्टेज परफॉर्मेंस अमिताभ बच्चन के साथ किया। जॉनी लीवर को अभी तक स्टेज परफॉर्मेंस के लिए काफी पहचान मिल गई थी। लेकिन वह फिल्मी जगत में अभी तक कदम नहीं रख सके थे। तभी एक दिन एक परफॉर्मेंस में डायरेक्टर सुनील दत्त ने उनके टैलेंट को पहचाना। और पहली बार 'दर्द का रिश्ता' मूवी के लिए उन्होंने जॉनी लीवर को साइन कर लिया।

 उसके बाद वह 'जलवा' मूवी में नसरुद्दीन शाह के साथ भी देखे गए। लेकिन उनकी असली पहचान 1993 में आई सुपरहिट फिल्म बाजीगर से शुरू हुई। और फिर उसके बाद से उन्होंने कभी भी पीछे मुड़कर नहीं देखा। और फिर उन्होंने ऐसे ही छाप छोड़ी, कि वह हर फिल्म में सपोर्टिंग एक्टर के तौर पर दिखे।


अगर पर्सनल लाइफ की बात करें, तो उनकी शादी सुजाता नाम की लड़की से हुई। और उनसे उन्हें 2 बच्चे हुए जिनमें बेटे का नाम जेस और बेटी का नाम जेमी है। आपको बता दें, कि जेमी भी एक स्टैंडअप कॉमेडियन है। दोस्तों भले ही आज जॉनी लीवर मशहूर कलाकार हो गए हैं। भले ही उनके पास धन दौलत है। लेकिन फिर भी वह अपने पुराने घर और अपने साथियों से मिलने जाते रहते हैं। 

दोस्तों कुल मिलाकर जॉनी लीवर का जीवन हमें यह प्रेरणा देता है कि हम अपने पैशन को फॉलो करेंगे तो हमें जरुर सफलता मिलेगी।





« और यह भी पढ़ें »

भारतीय सिंह की सफलता की कहानी 

तारक मेहता का जेठालाल की  कहानी 

कॉमेडी किंग कपिल शर्मा की कहानी 






 Note:

आपके पास About  johny lever ki jivani hindi me मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे. अगर आपको हमारी Blog Post  johny lever ki jivani hindi me Hindi Language में अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और WhatsApp Status पर Share कीजिये.


E-MAIL Subscription करे और पायें Easy Biography For Readers  johny lever ki jivani hindi me आपके ईमेल पर.






hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments