जैकी चैन की जीवनी - Jackie Chan ki jivani

Jackie Chan ki jivani आपको जानकर हैरानी होगी कि, जैकी चैन मार्शल आर्टिस्ट,एक्टर, डायरेक्टर, प्रोड्यूसर, स्क्रीन राइटर, स्टंट डायरेक्टर, एक्शन, कोरयोग्राफी, और सिंगर हैं। इतने सारे काम वे ख़ुद करते हैं। और पर्फेक्ट तरीके से करते हैं।


jackie chan ki jivani
jackie chan ki jivani 


जैकी चैन का जन्म 7 अप्रैल 1954 को हांगकांग चाइना में हुआ था। जैकी चैन और उनके माता-पिता ऑस्ट्रेलिया रहने चले गए। जैकी चैन के पिता ऑस्ट्रेलिया में अमेरिकन एंबेसी में हेड कुक थे। जैकी चैन को उन्हें कुक करते देख बहुत अच्छा लगता था। वहां प्राइमरी स्कूल की पहली साल में ही जैकी चैन फेल हो गए।

जैकी चैन को उनके पिता ने वापस हांगकांग भेज दिया। और वहां पर उनका एडमिशन एक बोर्डिंग स्कूल में करा दी गया। जैकी चैन का पढ़ाई में बिल्कुल मन नहीं करता था। उन्हें मार्शल आर्ट और एक्टिंग सीखने का मन करता था। वह उसी में अपना करियर बनाना चाहते थे।

 स्कूल में वह (सेवन लिटिल फार्च्यून) का हिस्सा थे। यह स्कूल के बेस्ट स्टूडेंट्स का ग्रुप था। वही से उन्होंने फिल्मों में काम करना शुरू किया। वह केवल 7 साल के थे तब उन्होंने 'द लव एटर्ने' और 'कम ड्रिंक विथ मी' जैसी फिल्म में काम किया। आगे चलकर उन्होंने मार्शल आर्ट में ब्लैक बेल्ट हासिल की। उन्होंने कराटे, जूडो और ताई कमांडो भी सीखी।

 यह सब करते हुए वे अपनी एजुकेशन पूरी नहीं कर पाए। उनके माता-पिता ऑस्ट्रेलिया रह रहे थे। और वे अकेले हांगकांग में रह रहे थे। उनके आस-पास मारपीट गुंडागर्दी करने वाले बहुत से लोग थे। कुछ दोस्त ड्रग्स भी बेचा करते। उन पर भी काफी दबाव डाला जाता था। लेकिन जैकी चैन ने अपने पिता से वादा किया था कि वह ड्रग्स कभी इस्तेमाल नहीं करेंगे।और जुआ, कसीनो, गेमिंग इन सबसे भी वह दूर रहेंगे। 

और उन्होंने अपना वादा आज तक निभाया है। जब वह 17 साल के थे, तब उन्होंने एक स्टंटमैन के तौर पर फिल्मों में काम करना शुरू किया। उन्हें 'इंटर द ड्रैगन' में  'ब्रूस ली' के साथ काम करने का मौका मिला। उनके साथ काम करना उन्हें करीब से देखना काफी अच्छा अनुभव था। 1973 में उन्हें पहली फिल्म मिली। लेकिन फिल्म ज्यादा खास बिजनेस नहीं कर पाई। और फ्लॉप हो गई। 

अब उनके पास कोई काम नहीं था। इसलिए उन्होंने मजबूरी में एक एडल्ट फिल्म भी की। यह उनकी ऐसी फिल्म थी जिनमें उनका एक भी स्टंट सीन या फाइट सीन नहीं है। यह फिल्म करना उनके लिए एक मजबूरी था। 1976 में उन्होंने डिक्सन कॉलेज में एडमिशन ले लिया। और साथ ही एसा कंस्ट्रक्शन वर्कर काम करने लगे। वहां एक बिल्डर थे जिनका नाम जैक था।

 और उन्हीं के नाम पर सब मुझे लिटिल जैक बुलाया करते थे। और फिर जैकी। और फिर आगे चलकर वह चैन कोंग संग से जैकी चैन बन गये। एक दिन कंट्रक्शन का काम करते समय जैकी चैन को एक टेलीग्राम आया। यह टेलीग्राम बिली चैन ने भेजा था। वह उनकी पिछली फिल्म के स्टंट से बहुत खुश हुए थे। उन्होंने एक फिल्म बनाई लेकिन बहन नाकामयाब रहे। 

लेकिन उनके स्टंट की वजह से उन्हें छोटे-मोटे काम मिलते रहे। 1978 में 'स्नेक इन द ईगल शैडो' नाम की एक फिल्म आई। फिल्म के डायरेक्टर ने उस फिल्म को बनाने के लिए जैकी चैन को पूरी छूट दे दी, कि वह किसी भी तरह के स्टंट इस फिल्म में कर सकते हैं। और वह फिल्म सुपरहिट रही। उस फिल्म में कुंग फू और कॉमेडी को मिलाकर जैकी चैन ने एक अलग ही कला को प्रस्तुत किया। और ऐसे ही 'ड्रंकन मास्टर', 'स्प्रैइटल कुंग फू' जैसी फिल्म भी सुपरहिट रही।

1981 में उन्होंने बॉलीवुड में कुछ फिल्में भी की। वहां एक के बाद एक उनकी फिल्म फ्लॉप होती जा रही थी। उन्होंने डिसाइड किया कि वह हांगकांग सिनेमा में ही अपना ध्यान लगाएंगे। वे हांगकांग वापस आए और उन्होंने 'द यंग मास्टर' नाम की एक फिल्म कि, और उस फिल्म ने सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए। यहां तक कि ब्रूस ली की फिल्म के भी। और वह चाइना के सबसे बड़े स्टार बन गए।

 जैकी चैन किस तरह फिल्मों में दिखते हैं। वह लगता है, कि कितना आसान है।लेकिन जैकी चैन सुबह 4:00 बजे उठते थे और अपनी मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग करने के बाद 6:00 बजे सेट पर पहुंच जाया करते थे। सेट पर पहुंच कर वे यही सोचते थे, कि वह अपने फैन को कैसे इंटरटेन कर सकते हैं। उनकी फिल्में हिट हो या ना हो लेकिन वह अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश करते हैं।

 स्टंट करते समय अगर वह स्टेट ज्यादा खतरनाक है, तो भी वह उस स्टंट को खुद ही करते हैं। स्टंट करते समय उनके कई बार गहरी चोट आई है। और हड्डियां तक टूटी है उनकी। एक फिल्म के स्टंट के दौरान तो उनके सिर में फैक्चर हो गया था। जिस वजह से वह मरते-मरते भी बचे थे। उनके नाम 'मोस्ट स्टंट वाये ए लिविंग एक्टर' का गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड है।

उसके बाद उन्हें हॉलीवुड से भी ऑफर आने लगे। Rush Hour में उन्हें क्रिश टकर के साथ उन्हें काम करने का मौका भी मिला। और वह फिल्म सुपरहिट रही। फिर उसके बाद उनकी कुछ फिल्में फ्लॉप रही। एक एक्टर की जिंदगी में उतार-चढ़ाव तो आते रहते हैं। फिर जैकी चैन ने अपना एक खुद का प्रोडक्शन हाउस शुरू किया। 

और फिर न्यू पुलिस स्टोरी, द मिथ, और रॉब- बी- हुड जैसी फिल्म बनाई और वह सुपरहिट रही। 'द स्पाई नेक्स्ट डोर' और 'द कराटे किड' करते समय उन्हें बहुत मजा आया। और बॉलीवुड के एक्टर सोनू सूद के साथ मिलकर उन्होंने 'कुंग फू योगा' नाम की एक फिल्म बनाई फिल्म ने अच्छी खासी कमाई भी की। और फिल्म 'कुंग फू पांडा' में उन्होंने मास्टर मंकी को आवाज भी दी है। 


उन्हें कई सारे अवॉर्ड भी मिले हैं। इंडियन फिल्म का आइफा अवॉर्ड भी और ऑस्कर भी। उनका कहना है कि मेरे लिए मेरे चाहने वालों की मुस्कान से बढ़कर कोई अवार्ड नहीं है। जैकी चैन को बचपन से ही म्यूजिक का शौक रहा है। उनके 20 से ज्यादा एल्बम आ चुके हैं। 

आपको जानकर शायद हैरानी होगी, की जैकी चैन कई देशों की भाषा बोल लेते हैं। उनका कहना है कि भाषा आपको दूसरे लोगों से जोड़ने का काम करती है। इसीलिए उनका कहना है , कि हर किसी को भाषाएं सीखते रहना चाहिए। कुछ नया सीखने का अपना ही एक मजा होता है।


1982 में जैकी चैन की शादी जोनलइन से हुई। उसी साल उन्हें एक बेटा भी हुआ। जिसका नाम जायसीई चैन है। वह एक एक्टर और सिंगर है। जैकी चैन चाइना के एंटी ड्रग गुडविल एंबेसडर भी हैं। वह लोगों को ड्रग और किसी प्रकार के नशे से दूर रहने की सलाह भी देते हैं। लेकिन उन्हें शोक तब लगा। जब उनका बेटा ड्रग्स लेते हुए पकड़ा गया। उसने माना कि वे 8 साल से ड्रग्स ले रहा था।

 उन्हें यकीन नहीं हो रहा था कि उनका बेटा यह सब करेगा। लेकिन उन्होंने अपना नाम और शोहरत से उसे बचाने की कोशिश नहीं की। उनके बेटे को 6 महीने की जेल हुई। जैकी चैन ने कभी किसी के सामने सिर नहीं झुकाया था। लेकिन अपने बेटे की गलती की वजह से उन्होंने लोगों से माफी मांगी। और फिर जैकी चैन के बेटे ने वादा किया कि वह कभी ड्रग्स नहीं लेंगे।


2011 में जैकी चैन ने कहा कि जब वह मरेंगे तब उनकी आधी संपत्ति दान में दे दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर मेरा बेटा लायक होगा तो वह खुद के पैसे खुद कमा लेगा। 1999 में उनका एक मिस एशिया के साथ अफेयर हुआ। वह प्रेग्नेंट हो गई। उसने डिसाइड किया कि वह अकेले ही बेटी का ख्याल रखेगी। 

उसके साथ रहना उनकी बहुत बड़ी गलती थी। जिसे उन्होंने स्वीकार किया। और कहा कि मैं भी एक इंसान हूं मुझसे भी गलतियां होती हैं। फर्क बस इतना है कि एक आम लोगों की गलती केवल कुछ लोग ही देखते हैं। और एक सेलिब्रिटी की गलती पूरी दुनिया देखती है।


लेकिन इन सबसे हटकर जैकी चैन अपनी जिंदगी में बहुत ही नेक दिल इंसान है। उन्होंने गरीब बच्चों की पढ़ाई के लिए स्कूल भी खोले हैं। वह गुडविल अंबेसडर हैं। वह कैंपेन करते हैं अगेंस्ट एनिमल एब्यूज और डिजास्टर रिलीफ का भी काम करते है। जैकी चैन का जैकी चैन साइंस सेंटर है।

 जा रिसर्च को बहुत इंपोर्टेंट दिया जाता है। वह गवर्नमेंट ऑफ हांगकांग के स्पोर्ट्स पर्सन भी हैं। उनकी कमाई का काफी बड़ा हिस्सा दान में जाता है। जैकी चैन का कहना है कि हमें दूसरों की मदद करने चाहिए अगर हमारे पास जरूरत से ज्यादा पैसा है तो हमें दूसरों की मदद में उस पैसों को लगाना चाहिए। यही एक रास्ता है जिसे हम दुनिया में शांति और खुशी ला सकते।

« और यह भी पढ़ें »

मार्शल आर्ट के बादशाह Bruce Lee की कहानी 

चीन के सबसे धनी व्यक्ति जैक मा की सफलता की कहानी

अमेरिकी रेसलर The Rock की जीवनी  



 Note:

आपके पास About jackie chan ki jivani  मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे. अगर आपको हमारी Blog Post  jackie chan ki jivani  Hindi Language में अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और WhatsApp Status पर Share कीजिये.


E-MAIL Subscription करे और पायें Easy Biography For Readers jackie chan ki jivani आपके ईमेल पर.






hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments