Hardik Pandya biography in hindi - GyanHindiMe


Hardik Pandya biography in hindi हार्दिक पांड्या का जन्म 11 अक्टूबर 1993 को गुजरात के सूरत में हुआ था। उनके पिता का नाम हिमांशु पांडेय था। जो एक छोटा सा कार फाइनेंस का बिजनेस चलाया करते थे। हार्दिक के अलावा उनके एक बड़े भाई कुणाल पांड्या भी है। बचपन से ही दोनों भाइयों में क्रिकेट को लेकर एक अलग ही जुनून था।


hardik pandya biography in hindi
Hardik Pandya biography in hindi


 और इसीलिए आर्थिक हालत ठीक ना होने के बावजूद भी वे सूरत से बड़ौदा शिफ्ट हो गए। और वहां पर भारत की पूर्व क्रिकेटर किरण मोरे के क्रिकेट अकैडमी में एडमिशन करा दिया। उस समय हार्दिक पांड्या की उम्र 5 साल और उनके बड़े भाई की उम्र 7 साल थी। क्रिकेट एकेडमी ज्वाइन करने के कुछ ही समय में दोनों भाइयों ने काफी अच्छा क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया। और किरण मोरे को भी काफी प्रभावित किया। जिसके बाद किरण मोरे ने उनकी आर्थिक हालत देखते हुए उनकी 3 साल की फीस माफ कर दी।

अगर हार्दिक पांड्या की स्कूल इन की बात करें तो हार्दिक पांड्या ने एम के हाई स्कूल से उन्होंने केवल 9वीं तक की पढ़ाई की। और फिर क्रिकेट को समय देने के लिए उन्होंने पढ़ाई पूरी तरीके से छोड़ दी। और फिर बहुत ही जल्द पांडेय ने प्रोफेशनल क्रिकेट में कदम रख दिया। और फिर बड़ौदा की तरफ से खेलते हुए 2013 और 2014 में सैयद मुश्ताक अली ट्रॉफी जीतने में एक बड़ी भूमिका निभाई।

 और सबका ध्यान अपनी तरफ आकर्षित कराया। और अगले साल ही उनकी परफॉर्मेंस को देखते हुए उनको आईपीएल की टीम मुंबई इंडियंस में खेलने का मौका मिला। और उन्होंने अपने पहले ही मैच में दूसरी गेंद पर आरसीबी के खिलाफ छक्का जड़ दिया। लेकिन उनकी असली पहचान तब हुई जब उन्होंने चेन्नई के खिलाफ 8 गेंदों पर 21 रन की जोरदार पारी खेली। और साथ ही साथ तीन महत्वपूर्ण कैच पकड़े।और मैन ऑफ द मैच रहे।

और हार्दिक पांड्या की परफॉर्मेंस को देखते हुए सचिन तेंदुलकर ने कहा कि तुम अगले एक डेढ़ साल में भारतीय टीम में जरूर खेलोगे। और सचिन की यह भविष्यवाणी सच हो गई। और 27 जनवरी 2016 को पांड्या ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ T20 में डेब्यू किया। जिस मैच में उन्होंने 2 विकेट लिए। 

उसी साल 16 अक्टूबर 2016 को वनडे क्रिकेट में भी उन्होंने डेब्यू किया। और उस मैच में न्यूजीलैंड के खिलाफ 3 विकेट लेकर भारत के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। और साथ ही साथ वे भारत के चौथे ऐसे खिलाड़ी बने जिन्होंने अपने डेब्यू मैच में मैन ऑफ द मैच का खिताब मिला।

इसके अलावा 18 जून 2017 चैंपियन ट्रॉफी की पारी को कौन भूल सकता है जिसमें उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ केवल 43 गेंदों में 76 रन की शानदार पारी खेली। उस मैच में इंडिया हार गई थी। लेकिन हार्दिक पांड्या की बैटिंग को शायद ही कोई भुला पाए।


« और यह भी पढ़ें »

मिताली राज भारतीय  महिला क्रिकेटर

विराट कोहली सफलता की कहानी

Sachin Tendulkar क्रिकेट के भगवान की कहानी 






 Note:

आपके पास About hardik pandya biography in hindi मैं और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इस अपडेट करते रहेंगे. अगर आपको हमारी Blog Post  hardik pandya biography in hindi Hindi Language में अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और WhatsApp Status पर Share कीजिये.


E-MAIL Subscription करे और पायें Easy Biography For Readers hardik pandya biography in hindiआपके ईमेल पर.






hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments