जेफ बेजोस जीवन गाथा jeff bezos biography in hindi


 Jeff Bezos biography in hindi जेफ बेजोस का जन्म 12 जनवरी 1964 को अमेरिका के न्यू मैक्सिको में हुआ था। जब वह पैदा हुए थे तब उनकी मां जेक्लीन हाई स्कूल में पढ़ाई कर रही थी। और उनकी उम्र केवल 17 साल थी। उनके पिता का नाम जोरगियेन्स था। जो केवल 18 महीने की उम्र में उन्हें और उनकी मां को भी बेसहारा छोड़ कर चले गए।


jeff bezos biography in hindi
 Jeff Bezos biography in hindi


जिसके बाद उनकी मां ने उन्हें कुछ सालों तक अकेले संभाला। लेकिन जब जेफ 4 साल के हो गए तो उन्होंने निगुएल बेजोस नाम के व्यक्ति से दूसरी शादी कर ली। इसी वजह से जेफ का सरनेम बेजॉस हो गया। शादी के बाद उनका पूरा परिवार ह्यूस्टन शिफ्ट हो गया।


दोस्तों  जेफ के अंदर शुरू से ही नई-नई चीजों को जानने का शौक था। वे अपने खिलौनों को अलग अलग कर देते फिर जोड़ना शुरू कर देते। दरअसल वह जानना चाहते थे कि कोई भी चीज काम कैसे करती है। वे शुरू से ही अपनी उम्र के बच्चों से काफी अलग थे। जेफ ने रिवर ओक्स एलीमेंट्री स्कूल से अपनी शुरुआती पढ़ाई की। और अपनी छुट्टियां अपने नाना के यहां बिताई।


जेफ बेजोस जीवन गाथा jeff bezos biography in hindi


उन्होंने शुरू से ही अपने आप को टेक्नोलॉजी में इंप्रूव किया। उन्होंने एक इलेक्ट्रिक अलार्म भी बनाया। आगे चलकर उनका परिवार फ्लोरिडा के म्यामी में शिफ्ट हो गया। जहां जेफ ने पालमेंटो स्कूल से पढ़ाई शुरू की। पालमेंटो में पढ़ाई करते हुए उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ फ्लोरिडा के साइंस ट्रेनिंग प्रोग्राम में पार्टिसिपेट किया।


जहा उन्हें 1982 में सिल्वर नाइट अवार्ड से नवाजा गया। दोस्तों जेफ हमेशा एक इंटेलिजेंट स्टूडेंट्स में गिने जाते रहे हैं। स्कूल के दिनों से ही हमेशा उनका ध्यान किताबों में रहता था। लेकिन यह बात उनके माता-पिता के लिए चिंता का कारण बन गई थी। इसीलिए उन्होंने चैफ को फुटबॉल सिखाना शुरू किया।


p>आगे चलकर जेफ ने प्रिंसटन यूनिवर्सिटी से इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग और कंप्यूटर साइंस से बैचलर ऑफ साइंस की डिग्री ली। 1986 में ग्रेजुएट कंप्लीट होने के बाद कंप्यूटर साइंस के क्षेत्र में ही काम किया। फिटेल नामक कंपनी में काम किया। और बहुत सी कंपनी में काम करने के बाद उन्होंने सोचा कि वह दूसरों का काम कब तक करेंगे।


जेफ बेजोस जीवन गाथा jeff bezos biography in hindi


इसके बाद उन्होंने खुद का कोई बिजनेस बनाने का मन लगाया। जिसके बाद उन्होंने अमेरिका के बहुत सारे शहरों की यात्रा की। और लोगों की डिमांड को करीब से जाना। आखिरकार उनकी सर्वे में उन्होंने यह जाना कि इंटरनेट की डिमांड काफी तेजी से बढ़ रही है। और अगर इसी क्षेत्र में बिजनेस किया जाए तो सफलता तो मिलनी ही है। 1994 में उन्होंने अपनी अच्छी खासी नौकरी छोड़ दी। और अपने गैराज से ऑनलाइन बिजनेस की तरफ पहला कदम रखा।


जहां उन्होंने किताबें बेचने से शुरुआत की। दोस्तों जेफ ने ऑनलाइन किताबें बेचना शायद इस वजह से सोचा था, क्योंकि वह खुद भी किताबों के बहुत शौकीन थे। उन्होंने तीन कंप्यूटर और कुछ ही एंप्लोई के साथ शुरुआत की। जेफ के माता पिता ने भी अपनी तरफ से उनकी पूरी सहायता की। हालांकि उन्हें जेफ का बिजनेस मॉडल कुछ ज्यादा समझ नहीं आ रहा था। क्योंकि उस समय तक वह इंटरनेट के बारे में कुछ ज्यादा नहीं जानते थे।


लेकिन उन्हें जेफ पर पूरा भरोसा था। जैफ ने अपनी कंपनी का नाम सबसे पहले केटब्रा रखा।और फिर आगे कुछ महीने चलकर उन्होंने उस कंपनी का नाम रेलेंटलेसडॉटकॉम रख लिया। लेकिन यह नाम उनके दोस्तों को कुछ ज्यादा पसंद नहीं आया। और 1995 में उन्होंने इसका नाम बदलकर amazon.com रख दिया। जो कि अमेरिका की नदी के नाम पर आधारित  थी।


ऐमेज़ॉन ने कुछ महीनों में ही 45 देशों में अपनी बुक की सेलिंग कर दी। और उनकी हर हफ्ते की बिक्री अमेरिकन डॉलर में 20000 की हो गई। बस यही से जेफ और उनकी कंपनी ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। और आगे चलकर अमेजॉन पर अनगिनत सामान बिकने लगे।


जेफ बेजोस जीवन गाथा jeff bezos biography in hindi


और फिर अमेजॉन दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग वेबसाइट बन गई। और इसी बीच नवंबर 2007 में एक ऐतिहासिक दिन कंपनी के बीच आया। amazon.com ने अमज़ॉनकिंगडल नाम से इबुक रीडर बाजार में उतारा। जिससे किताबों को तुरंत डाउनलोड करके पढ़ा जा सकता था। इससे कंपनी को काफी प्रॉफिट हुआ। एक तो किंडल की बिक्री बढ़ी और किंडल में पढ़ी जाने वाली बुक्स की भी बिक्री बढ़ी।


ग्राहकों के लिए यह बहुत सुविधाजनक था उन्हें बुक के आने का इंतजार नहीं करना पड़ता था। अब मनचाही बुक उनके पास मिनटों में आ जाती थी। जेफ की अगर पर्सनल लाइफ की बात करें तो उन्होंने 1993 में मैकेंजी से शादी की। जिससे उन्हें तीन बेटे हैं।


इसके अलावा उन्होंने एक लड़की को भी गोद लिया है। अमेजॉन जैफ और उनकी फैमिली की सिक्योरिटी के लिए हर साल ₹130000000 खर्च करता है। लेकिन फिर भी जेफ की वाइफ बच्चों को स्कूल भेजने के बाद जेफ को खुद उनके ऑफिस ड्रॉप करती हैं। और जेफ भी अपनी पत्नी और बच्चों को पूरा समय देते हैं।



« और यह भी पढ़ें »

Facebook शुरुआत कैसे हुई

Whatsup की शुरुआत कैसे हुई

Flipkart शुरुआत कैसे हुई



NOTE

आपके पास मैं  jeff bezos biography in hindi और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इसे समय समय पर अपडेट करते रहेंगे.अगर आपको हमारे लेख अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और          WhatsApp पर Share कीजिये.           E-MAIL Subscription करे और पायें बड़े आसानी लेख अपने ईमेल पर.






hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments