मार्शल आर्ट के बादशाह की कहानी Bruce Lee biography in hindi


 Bruce Lee biography in hindi अगर बात की जाए दुनिया के सबसे तेज इंसान कि या फिर मार्शल आर्ट की तो हमारे दिमाग में केवल एक ही शख्स का नाम आता है और वह है ब्रूस ली जो कि अपनी बिजली जैसी तेजी और खतरनाक किक से किसी को भी धूल चटा सकते थे। दोस्तों वैसे तो बहुत कम लोग होंगे जो ब्रूस ली के नाम से वाकिफ नहीं होंगे।


ब्रूस ली का प्रारंभिक जीवन – Bruce Lee Early Life Information 



Bruce Lee biography in hindi
 Bruce Lee biography in hindi


अगर कोई ब्रूस ली के बारे में नहीं जानता तो बता दे कि उन्हें मार्शल आर्ट का बादशाह कहा जाता है। या फिर कह लीजिए कि उनके जैसा आज तक पैदा नहीं हुआ जो उनके बराबर मार्शल आर्ट जानता हो


मार्शल आर्ट के बादशाह होने के साथ ही साथ वह हॉलीवुड के बहुत बड़े एक्टर भी थे। उन्होंने बहुत सारी सुपरहिट फिल्में भी दी हैं। दोस्तों ब्रूस ली की मृत्यु 32 वर्ष की बहुत कम उम्र में हो गई थी। लेकिन उन्होंने अपनी इस छोटी सी उम्र में जो कर दिखाया था ना शायद ही कोई कर पाए।


ब्रूस ली के बारे में जानने से पहले हम उनके कुछ रोचक बातों के बारे में जान लेते हैं। जिसे जानकर आप को उनके जीवन के बारे में जानने का उत्साह और बढ़ जाएगा। दोस्तों कहा जाता है कि ब्रूस ली की किक की स्पीड इतनी तेज हुआ करती थी की फिल्म के बाद उनके फाइटिंग सीन को स्लो करना पड़ता था।


ताकी स्पीड पर यह ना लगे कि ब्रूसली नकली एक्टिंग कर रहे हैं। दोस्तों किसी आम इंसान का इस स्पीड में हाथ पैर चलना बहुत ही मुश्किल था। ब्रूस ली किसी भी इंसान से 3 फीट दूर खड़े होने के बावजूद भी (0.05 second) में मार कर गिरा सकते थे। जो कि अपने आप में एक अद्भुत टैलेंट था। ब्रूसली भारत के गामा पहलवान के बहुत बड़े प्रशंसक थे।


गामा पहलवान दुनिया के इकलौते ऐसे पहलवान थे जो कि आज तक कुश्ती में कभी भी नहीं हारे थे। उन्होंने अपना शरीर पत्थर की डंबल और औजारों से बनाई थी। उनके जैसा पहलवान भारत को अभी तक नहीं मिल सका। यह तो हो गई ब्रूस ली की कुछ अद्भुत बातें। लेकिन अब हम उनके जीवन के बारे में जानते हैं।


 Bruce Lee biography in hindi


ब्रूस ली का जन्म 27 नवंबर 1940 को सैन फ्रांसिस्को के चाइना टाउन में जैक्सन स्पीड हॉस्पिटल में हुआ था। ब्रूस ली का वास्तविक नाम चुन फैन ली था। ब्रूस नाम उन्हें हॉस्पिटल की नर्स ने दिया था। जहां वे पैदा हुए थे। उनके पिता का नाम ली होई चुइंग था। जो कि चीनी थे।और उनकी माँ का नाम कैथोलिक था।


ब्रूस ली के पैदा होने के कुछ महीने बाद ही। उनके पिता पूरे परिवार के साथ अपने जन्म स्थान हांगकांग रहने चले गए। ब्रूस ली के पिता एक उपेरा स्टार थे। अगर आपको उपेरा के बारे में नहीं पता तो बता दे कि यह एक नाटकीय संगीत होता है। मतलब इसमें कुछ ग्रुप एक्टिंग करते हुए गाना गाते हैं। इस तरीकेके संगीत को यूरोपियन कंट्री में बहुत पसंद किया जाता है।


उनके पिता उपेरा स्टार होने की वजह से 3 महीने की आयु में ही ब्रूस ली को एक गोल्डन गर्ल के नाम से फिल्म में एक बच्चे का किरदार मिला और उनका फिल्मी सफर मात्र 3 महीने की छोटी सी उम्र से शुरू हो गया। और देखते ही देखते 16 साल की उम्र तक उन्होंने 20 से ज्यादा फिल्मों में काम किया।


ब्रूस ली ने अपनी शुरू की पढ़ाई पास के ही स्कूल से की। जब ब्रूस ली 16 साल के थे तब उनके शहर में कुछ गुंडे आकर रहने लगे थे। जो आम लोगों को बहुत परेशान किया करते थे। इसीलिए वह अपनी और अपने परिवार की सुरक्षा के लिए 16 साल की उम्र में मार्शल आर्ट का हुनर सीखना शुरू कर दिया।


 Bruce Lee biography in hindi


उन्होंने हिपमैन से ट्रेनिंग ली जो कि एक जाने-माने ट्रेनर थे। जिन्होंने लिखो विंग चुन नाम के मार्शल आर्ट का हुनर सिखाया। मार्शल आर्ट के हुनर के बाद ब्रूसली को गुंडों से लड़ने का शौक सा हो गया था। जिसकी वजह से उनके पिता बहुत परेशान रहते थे। और ना चाहते हुए भी उन्होंने ब्रूसली को अमेरिका भेज दिया। वहां पर जाकर ब्रूस ली ने अपने खर्चों के लिए लोगों को गार्डन में मार्शल आर्ट सिखाना शुरू कर दिया।


और 20 साल की उम्र में कुछ पैसे जुटाकर यूनिवर्सिटी ऑफ़ वाशिंगटन में एडमिशन ले लिया। और वहां भी उन्होंने स्टूडेंट्स को मार्शल आर्ट की ट्रेनिंग देना शुरू कर दिया।


इसी बीच उनकी मुलाकात लिंडा एमरी से हुई। और उन्हें लिंडा से प्यार हो गया। और अगस्त 1964 में शादी कर ली। ब्रूस ली और लिंडा के दो बच्चे हुए। ब्रैंडन ली और सेनन ली। बड़े होकर ब्रैंडन जो कि अपने पिता के तरह एक्टर बने। लेकिन 1993 में द क्रू मूवी के शूटिंग में गलती से उन्हें बंदूक की गोली लग गई। जिससे उनकी मृत्यु हो गई। सेनन भी एक अभिनेत्री बनी और उन्होंने कुछ फिल्मों में काम भी किया लेकिन उन्होंने कुछ समय बाद एक्टिंग छोड़ दी।


ब्रूस ली शादी के बाद फिल्मों में एक्शन के लिए कुछ मूव सिखाने लगे थे। फिर 1969 में लॉस एंजलिस के चाइना टाउन में उन्होंने मार्शल आर्ट सिखाने के लिए एक ट्रेनिंग सेंटर खोला। जहां वे मार्शल आर्ट सिखाने के लिए बड़े-बड़े एक्टर्स को ट्रेनिंग दिया करते थे। उसी साल उन्होंने एक फिल्म में हेल्पिंग एक्टर के तौर पर काम किया था। ब्रूस ली ने अभी बहुत फिल्मों में काम तो किया था लेकिन वह अपनी एक्टिंग की वजह से अभी तक फेमस नहीं हुए थे।


 Bruce Lee biography in hindi


उनकी पहली बड़ी मूवी 1971 में आई जिसका नाम बिग बॉस था। जो कि एक चाइनीस मूवी थी जिसमें उन्होंने एक लीड एक्टर का रोल दिया था। इस फिल्म की वजह से ब्रूस ली पूरी दुनिया में प्रसिद्ध हो गए। उसके बाद देखते ही देखते उन्होंने एक्टिंग की दुनिया में एक बड़ी सफलता हासिल कर ली। और फिस्ट ऑफ फ्यूरी और वे ऑफ ड्रैगन जैसी बहुत सुपरहिट फिल्में दी। दूसरी एक अच्छे आर्टिस्ट और पोएट भी थे।


उन्हें किताब पढ़ने का बहुत शौक था। इतनी सफलता के बात किसी इंसान की जिंदगी में अफवाह ना आए ऐसा तो हो ही नहीं सकता। लोग कहते हैं कि बुलंदियों की ऊंचाइयों पर पहुंचने के बाद उन्हें नशीली दवाइयों का शौक हो गया था। उन्होंने अपने आपको मार्शल आर्ट बादशाह बनाने के लिए बहुत ज्यादा अभ्यास करने लगे थे। जिससे उनके दिमाग की नसें कमजोर पड़ गई थी।


20 जुलाई 1973 की शाम ब्रूस ली के सिर में हल्का सा दर्द हुआ। उन्होंने दर्द की दवा ली और थोड़े ही देर में वह बेहोश हो गए। उन्हें वहां से अस्पताल ले जाया गया लेकिन उनकी बेहोशी कभी नहीं टूटी और यह मार्शल आर्ट का बादशाह 32 साल की बहुत कम उम्र में ही दुनिया को अलविदा कह गया।


दोस्तों ब्रूस ली का कहना था कि यदि आप किसी चीज को सोचने में बहुत ज्यादा समय लगाते हैं। तो आप उसे कभी नहीं कर पाएंगे।



« और यह भी पढ़ें »

सारी जीवन कभी भी ना हारने वाले पहलवान की कहानी 

Arnold जाने बॉडीबिल्डर से एक्टर बनने तक की कहानी 

महानतम बॉक्सर मोहम्मद अली की कहानी 




NOTE

आपके पास मैं  Bruce Lee biography in hindi और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इसे समय समय पर अपडेट करते रहेंगे.अगर आपको हमारे लेख अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और          WhatsApp पर Share कीजिये.           E-MAIL Subscription करे और पायें बड़े आसानी लेख अपने ईमेल पर.







hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments