दुनिया के सबसे तेज धावक उसैन बोल्ट की कहानी


उसैन बोल्ट का जन्म 21 अगस्त 1986 को जमैका के एक छोटे से गांव शेरवुड कंटेंट में हुआ था। बोल्ट के पिता का नाम वेलेसली और माँ का नाम जेनिफर है। जो कि साथ मिलकर एक किराने की दुकान चलाकर अपना और अपने बच्चों का पेट भरते थे। बोल्ट ने अपने बचपन अपने भाई के साथ गली में क्रिकेट और फुटबॉल खेल कर बिताया।


Usain Bolt Biography In Hindi
       Usain Bolt Biography In Hindi


बचपन से ही बोल्ट खेल में ही कैरियर बनाने की सोचते थे। अपनी छोटी उम्र में बोल्ट ने गांव के ही एक सरकारी स्कूल में पढ़ाई की। और यहीं पर उन्होंने अपनी पहली रेस पार्टिसिपेट की, और प्रथम स्थान प्राप्त किया। 12 साल की उम्र तक बोल्ट ने यह तो सोच लिया था, कि वह खेल में अपना करियर बनाएंगे। लेकिन किस खेल में, यह नहीं सोच पाए थे।


दुनिया के सबसे तेज धावक उसैन बोल्ट की कहानी Usain Bolt Biography In Hindi


बोल्ट ने अपने कॉच की सलाह मानी और मैकिनल से ट्रेनिंग लेने लगे। और फिर पहली बार लगभग 15 साल की उम्र में कैरीबियन रीजनल कंपटीशन में जमैका के लिए खेलते हुए 2001 में 400 मीटर और 200 मीटर की रेस में सिल्वर मेडल जीता। और 2002 में वर्ल्ड जूनियर चैंपियनशिप में गोल्ड के साथ 3 पदक जीते। लेकिन उसी बीच उन्हें जीवन के कठिन समय से गुजरना पड़ा।


जब मई 2004 में घुटनों की चोट की वजह से उन्हें ओलंपिक से बाहर का रास्ता देखना पड़ा। और वह उस ओलंपिक में कोई भी पदक नहीं जीत पाए। लेकिन वह अगले ओलंपिक की तैयारी में जोर-शोर से लग गए। और फिर 2008 के समर ओलंपिक में 100 मीटर, 200 मीटर और 400 मीटर की दौड़ में प्रथम स्थान पर आए और तीन गोल्ड मेडल जीतकर इतिहास रच दिया।


दुनिया के सबसे तेज धावक उसैन बोल्ट की कहानी Usain Bolt Biography In Hindi


और 2008 से लेकर अभी तक 100 मीटर 200 मीटर की रेस में गोल्ड मेडल जीतकर रिकॉर्ड बना दिया। उसैन बोल्ट का कहना है, कि अगर वह एक रनर ना होते तो वह एक तेज गेंदबाज होते, क्योंकि बचपन में उन्हें क्रिकेट बहुत पसंद था। और वे शुरू से पाकिस्तान के बॉलर वकार यूनिस के फैन थे।







« और यह भी पढ़ें »

मार्शल आर्ट के बादशाह Bruce Lee की कहानी 

Sachin Tendulkar क्रिकेट के भगवान की कहानी 

रोनाल्डो फुटबॉल गेम के भगवान की जीवनी 




NOTE

आपके पास मैं दुनिया के सबसे तेज धावक उसैन बोल्ट की कहानी Usain Bolt Biography In Hindi और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इसे समय समय पर अपडेट करते रहेंगे.अगर आपको हमारे लेख अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और WhatsApp पर Share कीजिये. E-MAIL Subscription करे और पायें बड़े आसानी लेख अपने ईमेल पर.












hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments