FACEBOOK के मालिक मार्क ज़ुकेरबर्ग सफलता की कहानी


दोस्तों दुनिया में यूं तो हजारों लोग जन्म लेते हैं लेकिन कुछ लोग दुनिया बदलने के लिए पैदा होते हैं। मार्क ज़ुकेरबर्ग भी एक ऐसा नाम है। जिसने अपने जीवन में ऐसी ऊंचाइयों को छुआ है। जहां तक पहुंचना एक सामान्य व्यक्ति के लिए नामुमकिन सा है आज का हर एक युवा फेसबुक के मालिक मार्क ज़ुकेरबर्ग जैसा बनना चाहता है।


मार्क ज़ुकेरबर्ग का प्रारंभिक जीवन – Mark Zuckerberg Early Life Information




Mark Zuckerberg biography in hindi
 Mark Zuckerberg biography in hindi





14 मई 1984 को मार्क ज़ुकेरबर्ग का जन्म हुआ। मार्क को बचपन से ही कंप्यूटर का बहुत शौक था जिसकी वजह से वह छोटी सी उम्र से ही कंप्यूटर के प्रोग्रामिंग लिखने लगे थे। उनके पिता उनको प्रोग्रामिंग करने में बहुत मदद करते थे लेकिन मार्क का दिमाग इतना तेज था कि वह उनके सवालों का उत्तर नहीं दे पाते थे जिसके कारण मार्क के लिए उन्हें कंप्यूटर टीचर बुलाना पड़ा।


जो मार्क को रोजाना कंप्यूटर प्रोग्रामिंग सिखाया करता था। मार्क की तेज बुद्धि का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है। की छोटी सी उम्र में भी मार्क अपने कंप्यूटर टीचर को भी फेल कर दिया करते थे। उनके अनुभवी टीचर भी उनकी बात का जवाब नहीं दे पाते। मार्क ने 12 साल की छोटी सी उम्र में ही एक मैसेंजर बनाया। जिसका नाम उन्होंने जियोगेनेट रखा। गियोगनेट का प्रयोग वह अपने घर से अपने पिता की क्लीनिक तक बात करने के लिए क्या करते थे।


मार्क ज़ुकेरबर्ग सफलता की कहानी Mark Zuckerberg biography in hindi


दोस्तों जिस समय बच्चे कंप्यूटर गेम खेलना सीखते हैं। मार्क उस समय पूरा गेम बनाते थे बाद में मार्क ने हावर्ड यूनिवर्सिटी में एडमिशन ले लिया। वहां भी मार्क बहुत इंटेलिजेंट स्टूडेंट थे उनकी इंटेलीजेंट सिटी को देखते हुए लोगों ने उन्हें प्रोग्रामिंग एक्सपर्ट के नाम से बुलाना शुरू कर दिया था कॉलेज के दिनों में फेसबुक नाम की एक बुक हुआ करती थी।


जिसमें कॉलेज के स्टूडेंट्स की फोटो और डिटेल हुआ करती थी। ऐसा ही कुछ सोच कर मार्क जुकरबर्ग ने फेस मैस्क नाम की एक वेबसाइट बनाई इस वेबसाइट की एक खास बात थी कि यह लड़के और लड़कियों की फोटो आमने सामने रखकर कंपेयर करता था कि इनमें सबसे ज्यादा हॉट कौन है। सबसे मजेदार बात इस वेबसाइट में यह थी कि इस वेबसाइट के लिए लड़कियों की फोटो इकट्ठा करने के लिए मार्क ने हावर्ड यूनिवर्सिटी की वेबसाइट हैक की थी। जो उस समय की सबसे मजबूत वेबसाइट मानी जाती थी फेस मैस्क कॉलेज के स्टूडेंट्स में बहुत फेमस हुई।लेकिन कॉलेज की कुछ लड़कियों ने इसे आपत्तिजनक बता कर इसका विरोध भी किया।


इससे मार्क को डांट भी सुननी पड़ी थी। 2004 में मार्क ने द फेसबुक नाम की एक वेबसाइट बनाई। यह वेबसाइट अभी तक हावर्ड में ही फेमस थी लेकिन धीरे-धीरे यह वेबसाइट दूसरी यूनिवर्सिटी में भी पसंद की जाने लगी। द फेसबुक कि पॉपुलर ट्री दिन पर दिन बढ़ती जा रही थी। और यह देखकर मार्क ने डिसाइड किया। की फेसबुक का इस्तेमाल केवल स्टूडेंट्स ही नहीं दुनिया भर के सभी लोग कर पाएंगे। और मार्क ने बीच में ही अपना कॉलेज छोड़ दिया। और अपनी टीम को इकट्ठा कर पूरी मेहनत के साथ इस वेबसाइट पर काम करना शुरू कर दिया।


मार्क ज़ुकेरबर्ग सफलता की कहानी Mark Zuckerberg biography in hindi


2005 में द फेसबुक वेबसाइट का नाम बदलकर केवल फेसबुक रख दिया गया। साल 2007 तक फेसबुक पर लाखों बिजनेस पेज और प्रोफाइल बन चुके थे। अब वह समय आ गया था जब फेसबुक पूरी दुनिया पर राज करने वाली थी। 2011 तक यह दुनिया की सबसे बड़ी वेबसाइट बन चुकी थी।


और अपनी सच्ची लगन और मेहनत से मार्क जुकरबर्ग बन चुके थे इंटरनेट की दुनिया के बादशाह मार्क नहीं जब फेसबुक का साइड बनाया तब वह सिर्फ 19 साल की थे और इतनी छोटी सी उम्र में ही उन्होंने दुनिया भर के लोगों को एक साथ जोड़ कर रख दिया था। और आज मार्क दुनिया के सबसे यंगेस्ट बिलियन के रूप में है।


दोस्तों अंत में हम यह कहना चाहेंगे जिस व्यक्ति में सफलता और आशा के लिए आत्मविश्वास है वही व्यक्ति उच्च शिखर पर पहुंचते हैं।



« और यह भी पढ़ें »

PayTM की शुरुआत कैसे हुई

Flipkart की शुरुआत कैसे हुई

Whatsup की शुरुआत कैसे हुई



NOTE

आपके पास मैं Mark Zuckerberg biography in hindi और Information हैं, या दी गयी जानकारी मैं कुछ गलत लगे तो तुरंत हमें कमेंट मैं लिखे हम इसे समय समय पर अपडेट करते रहेंगे.अगर आपको हमारे लेख अच्छी लगे तो जरुर हमें Facebook और          WhatsApp पर Share कीजिये.           E-MAIL Subscription करे और पायें बड़े आसानी लेख अपने ईमेल पर.












hemraj

Hemraj Kumar 


दोस्तों मेरा नाम है Hemraj Kumar है Gyanhindime.com का founder हूँ मुझे किताबों और इन्टरनेट पर नई नई रोचक जानकारी पढ़ना बहुत पसंद है और इसीलिए मेने यह Blog बनाया है की में अपने इस Wabsite Blog GyanHindiMe.com के माध्यम से आप सभी को रोचक जानकारियाँ दे सकू कृपया हमें सपोर्ट करें और हमारा मनोबल बढ़ाएं जिससे कि हम आपके लिए और रोचक और हेल्पफुल लेख लाते रहें

0/Post a Comment/Comments